Connect with us

TECH

भारत मे पेश हुआ 300 Km रेंज वाला इलेक्ट्रिक स्कूटर, जाने इसके शानदार फ़ीचर्स।

Published

on

फिलहाल देशभर में इलेक्ट्रिक गाड़ियों की डिमांड काफी बढ़ती जा रही है। और इसी को मद्देनजर रखते हुए कंपनियां इस सेगमेंट में नई-नई गाड़ियां मार्केट में लॉन्च कर रही हैं।  अब इसी बीच आस्ट्रेलियाई टू व्हीलर निर्माता कंपनी ने अपने पहले मैक्सी इलेक्ट्रिक स्कूटर को EICMA ऑटो शो में पेश किया है। कंपनी ने इस स्कूटर को Senmenti 0 नाम दिया है। हॉर्विन का दावा है कि राइडर्स के लिए ये स्कूटर बेहद खास होने वाला है। साथ ही इसका डिजाइन पावरट्रेन एवं स्पेशिफिकेशन अन्य स्कूटर्स से हट कर होगा।

बता दें कि हॉर्विन एक आस्ट्रेलियाई टू व्हीलर निर्माता कंपनी है। यह अपना पहला इलेक्ट्रिक स्कूटर 2019 में लॉन्च किया था जिसे CR6 प्रो नाम दिया था। वहीं, हॉर्विन का पहला मैक्सी इलेक्ट्रिक स्कूटर Senmenti 0 400 V ऑर्किटेक्चर पर आधारित स्कूटर है। यह सिर्फ 30 मिनट में 0 से 80 प्रतिशत तक पूरी तरह चार्ज हो जाएगा। वहीं इसकी स्पीड अन्य स्कूटर्स से अलग साबित होगा। कंपनी का दावा है कि यह स्कूटर सिर्फ 2.5 सेकंड में 0 से 100 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार पकड़ने में सक्षम है। साथ ही 80 किमी प्रतिघंटा की औसत गति से अधिकतम दूरी तय करेगा।

वहीं इसकी टॉप स्पीड 200 किमी है। कंपनी का कहना है कि ये स्कूटर सिंगल चार्ज में 300 किमी की दूरी तय कर सकेगा।Senmenti 0 में 30 सेंसर और कैमरे दिए गए हैं, जिससे रियल टाइम इंफॉर्मेशन प्राप्त होगा। इसमें ABS, टायर प्रेशर मॉनिटरिंग, एंटी स्लिप सिस्टम, कॉलिजन अलर्ट भी दिया गया है। ये तमाम फीचर्स राइडर्से के ड्राइविंग एक्सपीरियंस को बेहतर करेंगे। साथ ही उनके सेफ्टी लेवल भी बढ़ाएंगे। इसके अतिरिक्त इसमें हिल क्लाइंब असिस्ट, स्टार्ट और रिवर्स असिस्टेंट, हीटेग ग्रिप्स और कीलेस गो जैसे फीचर्स दिए गए हैं।

इसमें 3 राइडिंग मोड हैं। ट्रैक्शन कंट्रोल, टीएफटी डिस्पले, हीटेड सीट, ब्लूटूथ कनेक्टिविटी और एडजस्टबल विंडस्क्रीन भी दी गई है। हॉर्विन के अनुसार बैटरी लो होने पर भी इस स्कूटर के परफॉर्मेंस पर कोई खास असर नहीं पडे़गा। इसमें एक रेंज एक्सटेंडर फीचर भी मौजूद है, जो ऐसी स्थिति में राइडर को लंबी दूरी तय करने की सुविधा देगा। हालांकि कंपनी की ओर से ये जानकारी अभी तक नहीं मिली है कि इस फंक्शन का इस्तेमाल करके स्कूटर का रेंज कितना बढ़ाया गया है। साथ ही कंपनी के अनुसार बैटरी पैक का इस्तेमाल पावर सोर्स के तौर पर कर सकते है।